Railway Ticket Booking: ऑनलाइन रेलवे टिकट बुकिंग्स के प्रोसेस में आएगा बड़ा बदलाव, रेलवे से मिली जानकारी

Spread the love

Railway Ticket Booking: रेल मंत्रालय हमेशा से ही टिकट प्रक्रिया को और भी आधुनिक बनाने के लिए काम करता रहता है , बीते हुए समय में इस काम के लिए कई महत्वपूर्ण कदम भी उठाए गए हैं। सभी यात्रियों को ऑनलाइन टिकट बुकिंग में कई बार बहुत सारी समस्याओं का भी सामना करना पड़ता है।

क्या है जानकारी ?

रेलवे द्वारा जानकारी मिली है कि भारतीय रेलवे यात्री आरक्षण प्रणाली पर रेलवे की स्थाई समिति की आठवीं रिपोर्ट में दी गई टिप्पणियों और सिफारिशों पर सरकार द्वारा की गई करवाई साझा की गई थी।असल में रेल मंत्रालय का कहना है कि यात्रियों को कई बार ऑनलाइन टिकट्स बुक करने में कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है और इन्हीं समस्याओं से छुटकारा दिलाने के लिए एक बार फिर से रेल मंत्रालय ऑनलाइन टिकट बुकिंग के प्रोसेस को और भी आसान और सुविधाजनक बनाने पर काम कर रहा है।

आसान प्रोसेस के चलते ज्यादा होती हैं बुकिंग (Railway Ticket Booking)

रेलवे ने बोला है कि ‘ नेक्स्ट जेनरेशन ई -टिकटिंग (NGET) सिस्टम को लगातार अपडेट किया जा रहा है।इस बात का अंदाजा आप इस चीज से लगा सकते हैं कि 2016-17 में एक मिनट में 15,000 टिकट कटता था ,जबकि साल 2017-18 में ये आंकड़ा 18,000 टिकट प्रति मिनट और साल 2018-19 में ये आंकड़ा 20,000 टिकट प्रति मिनट पर पहुंच गया और वर्तमान में आईआरसीटी की वेबसाइट में प्रति मिनट 25,000 से अधिक बुकिंग करने की क्षमता है। आपको बता दें कि 5 मार्च 2020 को टिकट बुकिंग्स (Railway Ticket Booking) इसीलिए बढ़ाई गई थी क्यूंकि उस साल होली से पहले आखिरी मिनट तक की बेहिसाब बुकिंग के कारण ये रिकॉर्ड बनाया गया था।

समय समय पे आते रहें है बदलाव

आपको बता दें कि भारतीय रेलवेज ने हमेशा से ही बुकिंग प्रक्रिया में नए नए अपडेट्स कर के लोगो की साहूलियत को प्राथमिकता दी है और आगे भी यही करने की पूरी उम्मीद है। भारतीय रेलवेज इस समय पर्यटन निगम (आईआरसीटीसी) की ऑनलाइन यात्री टिकट बुकिंग (Railway Ticket Booking) प्रणाली को अपग्रेड करने के लिए काम कर रहा है ताकि यात्रियों को टिकट बुकिंग करवाने में किसी भी समस्या का सामना न ना करना पड़े।

यह भी पढ़े:-Cheapest Air Ticket: इस ऑफर में एयरलाइन कंपनी दे रही मात्र 9 रुपए में इंटरनेशनल हवाई यात्रा की सुविधा

यह भी पढ़े:-Foreign Currency Reserve: चार सप्ताह घटने के बाद बढ़ा अपना विदेशी मुद्रा भंडार, जानिए कहां पहुंच गया

Leave a Comment