PNB लेकर आ रही ग्राहकों के लिए एक नया बदलाव जिससे ग्राहकों को मिल सकता बड़ा झटका

Spread the love

Punjab National Bank (PNB): पीएनबी ने हाल ही में आरबीआई मौद्रिक समीक्षा बैठक से पहले ही पीएनबी ने मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट में 10 बेसिस पॉइंट की वृद्धि कर दी है।आपको बता दें कि नई दरें भी 1 अगस्त से लागू कर दी गईं हैं।

RBI की बैठक

इस हफ्ते आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति की बैठक होनी है , और अनुमान लगाया जा रहा है कि इस बैठक में रेपो रेट को फिर से बढ़ाया जा सकता है , और ऐसा होने पर निश्चित रूप से बैंक फिर से ब्याज दरों में वृद्धि करेंगे।आपको बता दें कि पीएनबी द्वारा बढ़ाई गई नई ब्याज दरें 1 अगस्त से लागू हो गई हैं।

PNB- ग्राहकों पर होगा इसका सीधा असर

एमसीएलआर में बढ़ोतरी से नए और मौजूदा ग्राहकों पर इसका भारी असर पड़ेगा। इससे उनके लोन की ईएमआई में बढ़ोत्तरी होगी।आपको बता दें कि अब बैंक ने ओवरनाइट लोन के लिए मार्जिनल कॉस्ट ऑफ लेंडिंग रेट 6.90 फीसदी से बढ़कर 7.00 फीसदी कर दिया है।

वहीं एक महीने, तीन महीने और छह महीने के लिए दरें 0.10 फीसदी बढ़ाकर क्रमश: 7.05 फीसदी, 7.15 फीसदी और 7.35 फीसदी कर दी गईं हैं। साथ ही साथ एक वर्ष वाले लोन के लिए एमसीएलआर सोमवार से 7.55 प्रतिशत से बढ़कर 7.65 प्रतिशत हो गए हैं। 3 साल वाले लोन के लिए एमसीएलआर 7.85 फीसदी से बढ़ाकर 7.95 फीसदी कर दिया गया है।

क्या होम लोन पर भी बदलेगी ब्याज दर ?

हालांकि इस फैसले के बाद मकान वाहन और पर्सनल लोन अधिक महंगे हो जायेंगे। आपको बता दें कि मौजूदा होम लोन लेने वालों को ज्यादा ध्यान देना चाहिए कि ईएमआई को तभी संशोधित किया जाएगा जब उनके लोन की रीसेट डेट आएगी। रीसेट तिथि आने पर बैंक मौजूदा एमसीएलआर के आधार पर उधारकर्ताओं के होम लोन पर ब्याज दर में वृद्धि या संशोधन भी करेगा।

यह भी पढ़े:-Indian Railways: नहीं खाने होंगे धक्के, आसानी से मिल जायेगी अब आगरा- अजमेर इंटरसिटी में सीट

यह भी पढ़े:-अगर आपकी 15,000 रुपए है सैलरी तो कितने तक का मिलेगा पर्सनल लोन, कौन से दस्‍तावेजों की होगी जरूरत

Leave a Comment