जानें PM Kisan Samman Nidhi Yojana के तहत कैसे बनती है लाबर्थियों की सूची

Spread the love

PM Kisan Samman Nidhi Yojana केंद्र सरकार द्वारा खासकर किसानों के लिए चलाई जाने वाली स्कीम है जिसके तहत किसान परिवारों को 6,000 रुपये की वित्तीय सहायता दी जाती है। Digital India पहल के साथ सरकार ने 2,000 पात्र किसानों को स्थानांतरित किया। पात्र किसानों को प्रति वर्ष 6,000 रुपये का वित्तीय लाभ हर चार महीने में 2,000 रुपये की तीन किस्तों में जारी किया जाता है।

कौन है इस योजना का पात्र ?

आपको बता दें कि परिवार में पति और पत्नी दोनों इस योजना का लाभ नहीं ले सकते , किसी एक को ही इस योजना का लाभ मिलेगा। वहीं अगर कोई किसान खेती कर रहा है, लेकिन खेत उसके नाम पर नहीं बल्कि उसके पिता या दादा के नाम पर है, तो उसे फिर से इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा। एक अन्य मामले में यदि कोई कृषि भूमि का मालिक है,

लेकिन वह सरकारी कर्मचारी (government employee ) है या सेवानिवृत्त, वर्तमान या पूर्व सांसद, विधायक, मंत्री हैं तो ऐसे लोग भी farmer scheme के लाभ के लिए अपात्र (ineligible) हैं। वहीं अगर आप पेशेवर पंजीकृत डॉक्टर, इंजीनियर, वकील, चार्टर्ड एकाउंटेंट है तब भी आप PM Kisan Samman Nidhi Yojana के लाभों का आनंद लेने के लिए अयोग्य हैं।

कैसे होगी जांच लाभार्थियों की ?

राज्य सरकारें और केंद्र शासित प्रदेश प्रशासन इस बात की जांच करेंगे की कौन कौन इस योजना का पात्र है ,यह राशि लाभार्थियों के बैंक खातों में सीधे हस्तांतरित की जाएगी। योजना के लिए कई बहिष्करण श्रेणियां हैं ,योजना के तहत लाभ के लिए पात्र किसान परिवारों की पहचान करने की जिम्मेदारी पूरी तरह से राज्य / केंद्रशासित प्रदेश सरकारों की है। विभिन्न राज्यों/संघ शासित प्रदेशों में प्रचलित भूमि-स्वामित्व प्रणाली/भूमि का रिकॉर्ड योजना के लाभों के हस्तांतरण के लिए इच्छित लाभार्थियों की पहचान करने के लिए उपयोग किया जाएगा।

कैसे चेक करें स्टेटस ?

सबसे पहले PM Kisan के आधिकारिक पोर्टल pmkisan.gov.in पर जाएं। इसके बाद बाईं ओर दिए गए Beneficiary Status पर क्लिक करें। अब एक नया पेज खुलेगा जहां आप रजिस्ट्रेशन नंबर और मोबाइल नंबर के जरिए स्थिति की जांच कर सकते हैं।इस योजना के तहत जरूरतमंद किसानों को सालाना 6000 रुपए की आर्थिक मदद मिलती है , और ये पैसा साल भर में तीन बराबर किश्तों में किसानों के अकाउंट में ट्रांसफर किया जाता है।

यह भी पढ़े:-Old Note: जानें कैसे आपके पुरानी नोट इक्कठा करने का शौक, बना सकता है आपको लखपति

Leave a Comment