Mahindra Scorpio-N खरीदने से पहले जान लें ये 5 खामियाँ, वरना पछतायेंगे

Spread the love

Mahindra Scorpio-N:  Mahindra Scorpio-N को ग्राहकों की शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है। हालांकि 30 जुलाई को इसकी बुकिंग शुरू हुई और तभी से ग्राहक इसे बुक करने के लिए जुट गए। इसे एक घंटे में ही 1 लाख बुकिंग मिल गई थी। कोई भी गाड़ी परफेक्ट नहीं है। ऐसे में ढेरों खूबियां होने के साथ महिंद्रा की Scorpio-N में भी कुछ कमियां हैं और अगर आप भी महिंद्रा की नई स्कॉर्पियो-एन बुक करने की सोच रहे हैं तो पहले इस SUV की 5 खामियों के बारे में जान लीजिये।

Mahindra Scorpio-N का माइलेज:

Mahindra Scorpio-N में 2.2 लीटर का mHawk डीजल इंजन और 2.0 लीटर mStallion पेट्रोल इंजन मिलता है। दोनों हइंजन को मैनुअल और 6 स्पीड ऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ जोड़ा गया है। ये दोनों ही इंजन दमदार पावर और टॉर्क देते हैं। ऐसे में आपको माइलेज के साथ समझौता करना ही होगा। अगर आप पेट्रोल इंजन वाला वेरिएंटऑटोमैटिक ट्रांसमिशन के साथ लेते हैं तो फिर आप 11 से 12 kmpl तक के माइलेज की उम्मीद कर सकते हैं। जबकि डीजल इंजन भी इससे थोड़ा बहुत ही ज्यादा माइलेज दे पाएगा।

Mahindra Scorpio-N का वेटिंग पीरियड:

महिंद्रा एक्सयूवी 700 खरीदने वाले ग्राहकों को भी काफी लंबा वेटिंग पीरियड झेलना पड़ा था। ऐसा ही कुछ स्कॉर्पियो-एन के साथ भी होने वाला है। हालांकि एसयूवी को पहले 1 घंटे में ही 1 लाख बुकिंग मिल गई थी। कंपनी ने कहा था कि शुरुआती 25 हजार बुकिंग्स की डिलिवरी दिसंबर तक होनी है। जबकि इसके बाद आई बुकिंग्स के बारे में फिलहाल कोई दावा ही नहीं किया गया है।

Mahindra Scorpio-N का थर्ड रॉ का स्पेस:

3 रॉ वाली एसयूवी के साथ इस तरह की समस्या होती ही है। कंपनियां भले ही कुछ भी दावा करें, लेकिन तीसरी पंक्ति में बैठने वाले यात्रियों को लेग रूम के साथ समझौता करना ही पड़ता है। ऐसा ही कुछ Mahindra Scorpio-N के साथ भी है। इसकी सबसे पीछे वाली सीट्स आमतौर पर बच्चों के लिए ही ठीक रहती हैं। व्यस्क यहां बैठकर ज्यादा लंबी दूरी की यात्रा नहीं कर पाएंगे।

Mahindra Scorpio-N का बूट स्पेस:

7 सीटर गाड़ियों के साथ बूट स्पेस की भी काफी समस्या रहती है। स्कॉर्पियो एन में भी आपको बेहद लिमिटेड बूट स्पेस मिलेगा । यह बड़ी कार है, जो खास तौर पर लॉन्ग ट्रिप्स के लिए बनाई गयी हैं। लेकिन छह और सात लोगों के बैठने के बाद इसमें सामान के लिए ज्यादा जगह नहीं बचेगी। हालांकि आप रूफ का बेहतर इस्तेमाल कर सकते हैं।

Mahindra Scorpio-N का सर्विस:

महिंद्रा का सर्विस नेटवर्क फिलहाल तो ठीक है, लेकिन भविष्य में मुश्किलें बढ़ने की संभावना ज्यादा है। कंपनी की बिक्री लगातार बढ़ती ही जा रही है। थार और एक्सयूवी 700 की बिक्री तो अपने चरम पर थी ही, अब नई स्कॉर्पियो से लोड और बढ़ जाएगा। ऐसे में महिंद्रा को अपने सर्विस नेटवर्क में विस्तार की जरूरत है, नहीं तो ग्राहकों को आने वाले समय में जरूर समस्या हो सकती है।

यह भी पढ़ें : शहर की लगभग 40% आबादी करती है Public Transport का इस्तेमाल

यह भी पढ़ें : देश की सबसे सस्ती ऑटोमैटिक कार, कीमत बस 4.25 लाख रुपये, 21.7 km तक का मिलेगा माइलेज

Leave a Comment