Monday, July 4, 2022
Homeलाइफस्टाइलसुबह शाम के बोरिंग नाश्ते से ऊब चुके हैं, तो यह सूजी...

सुबह शाम के बोरिंग नाश्ते से ऊब चुके हैं, तो यह सूजी का स्वादिष्ट ढोकला करें ट्राई

सुबह शाम के बोरिंग नाश्ते से अगर आप भी ऊब चुके हैं तो सूजी का स्वादिष्ट ढोकला ट्राई कर सकते हैं। इसको आपको बस इमली की चटनी के साथ मिलाना होगा और आप एक स्वादिष्ट भोजन कर पाएंगे।

जानिए इसकी सामग्री

1. एक कप सूजी
2. 1/2 छोटा चम्मच मिर्च पाउडर
3. नमक आवश्यकता अनुसार
4. 1/2 कप खट्टा दही
5. एक छोटा चम्मच बेकिंग पाउडर

यह भी पढ़े :-Lips Problems- फटे हुए होठों से हो चुके हैं परेशान, तो ये 3 चमत्कारिक उपायों को अपनाने से मिल जाएगा निजात

ढोकले की सजावट के लिए सामग्री

Dhokla

1. एक बड़ा चम्मच चावल की भूसी का तेल
2. दो डंठल कड़ी पत्ते
3. एक छोटा चम्मच सरसों के दाने

ढोकला बनाने की विधि

1. एक कटोरी में सूजी, लाल मिर्च और नमक पाउडर मिला लें।

2. सुखी सामग्री को मिला लें और तेल डाल दे।

3. इसके बाद इसमें दही और थोड़ा सा पानी मिला दे। अगर पानी की आवश्यकता हो तभी मिलाएं वरना ना मिलाएं।

4. उसको अच्छी तरह से मिला दे और 30 मिनट के लिए उसे ढक कर रख दें।

5. बेकिंग टीन में तेल लगा दे। जब आप ढोकले को टीम करने के लिए रखेंगे उससे ठीक पहले मिश्रण में एक बड़ा चम्मच बेकिंग पाउडर मिला दे। जब उसमें बुलबुले बनने लगे तो धीरे से उसे मिलाने लगे। बैटर को चिकनाई लगे हुए बेकिंग टिन में तुरंत डालकर बैटर को समान रूप से फैला दें।

यह भी पढ़े :-Office Stress- ऑफिस में काम करते समय टेंशन से कैसे रहें दूर, अपनाएं ये 5 टिप्स जल्द मिल जाएगी राहत

6. इसके बाद इसको 12 मिनट के लिए स्टीमर में ढक कर रख देना है।

7. उसके बाद तेल, करी पत्ते और राई से बना हुआ तड़का तैयार कर लेना है। अब आपको ढोकले को नम बनाने के लिए थोड़ा पानी और चीनी भी मिलाया जा सकता है। उस बनाए हुए तड़के को ढोकले के ऊपर डाल देना है।

8. उसके बाद ढोकले को थोड़ा ठंडा होने के बाद में बराबर आकार के चौकोर टुकड़ों में काट लेना है। ढोकले को धनिया या फिर इमली की चटनी के साथ परोसाऔर खाया जा सकता है।

Kanchan Goyalhttps://factspigeon.com
कंचन गोयल अभी माखनलाल पत्रिकारिता विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी कर रही हैं। इसके अलावा इन्हे निष्पक्ष होकर पत्रिकारिता करना पसंद है। सच्चाई और तथ्यों के आधार पर स्टोरी करने को महत्व देती हैं। इनका मानना है कि पढ़ाई, लिखाई करने से रचनात्मक सोच में उत्पत्ति है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular