Diabetes food: डायबिटीज पेशेंट ना खाएं आटे की रोटियां, ब्लड शुगर लेवल पर होता है असर

नई दिल्ली: दुनिया भर में मधुमेह की बीमारी से करोड़ों लोग परेशान हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक अकेले भारत में 7 करोड़ के लगभग लोग डायबिटीज से पीड़ित हैं। डायबिटीज स्वास्थ्य को बुरी तरह से प्रभावित करता है। ऐसे में इस बीमारी से पीड़ित लोगों में अन्य बीमारियों का खतरा भी बढ़ जाता है।

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक अनहेल्दी डाइट की वजह से शरीर में ब्लड शुगर का स्तर बढ़ जाता है। इस बीमारी के इलाज के साथ ही सावधानी बरतना भी बेहद जरूरी है, खासकर अपनी डाइट को लेकर विशेष रूप से सतर्क रहना होगा। हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक डायबिटीज रोगियों को उन फूड्स से भी परहेज करना चाहिए जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स वैल्यू अधिक होता है। ऐसे में आइए जानते हैं कि किस आटे की रोटी डायबिटीज रोगियों को खाना चाहिए –

बासी रोटी और दूध: आयुर्वेद के जानकारों के मुताबिक घरेलू नुस्खे के तौर पर हाई ब्लड शुगर लेवल की समस्या से पीड़ित लोगों को रोजाना बासी रोटी और ठंडे दूध का सेवन करना चाहिए। ठंडे दूध में बासी रोटी को भिगोकर 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें। आप दिन के किसी भी समय इसका सेवन कर सकते हैं। यह आपका शुगर लेवल कंट्रोल में रखने का काम करेगा।

चने का आटा: चने के आटे में घुलनशील फाइबर होता है जो कि शरीर में बढ़ रहे बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल कंट्रोल करने में सहायक होता है। साथ ही, खून में ग्लूकोज के अवशोषण की प्रक्रिया को भी धीमा करता है जिससे शुगर लेवल काबू में रहता है।

राजगिरा आटे की रोटी: एंटी-डायबिटिक और एंटी-ऑक्सीडेटिव गुणों के चलते राजगिरा डायबिटीज के मरीजों के लिए बेहतरीन विकल्प है। राजगिरा में भरपूर मात्रा विटामिन्स, प्रोटीन और लिपिड होता है। जो डायबिटीज के मरीजों में ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने का काम करता है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक राजगिरा के आटे से बनी रोटी स्वास्थ्य बल्कि स्वाद के हिसाब से काफी बेहतरीन होती है।

रागी के आटे की रोटी: फाइबर का बेहतरीन स्रोत होता है रागी, जिसे खाने से भूख काबू में रहती है और लोग ओवरईटिंग से बच जाते हैं। इसे शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है और मोटापा का खतरा कम होता है।

कुट्टू का आटा: ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के मामले में कुट्टू का आटा बेहद फायदेमंद साबित हो सकता है। इसमें कार्ब्स की मात्रा कम होती है और ये एक हाइपोग्लाइसेमिक फूड है। इस आटे में फाइबर्स और फाइटोन्यूट्रिएंट्स मौजूद होते हैं जो डायबिटीज कंट्रोल करने में कारगर हैं।

Source: Jansatta

Leave a Comment