Saturday, July 2, 2022
Homeलाइफस्टाइलक्या आप भी दिखना चाहते हैँ खूबसूरत, करें ये योगासन-दमक उठेगा चेहरा

क्या आप भी दिखना चाहते हैँ खूबसूरत, करें ये योगासन-दमक उठेगा चेहरा

अगर आपके चेहरे पर भी ग्लो नहीं आता। आपका चेहरा मुरझाया हुआ सा लगता है, तो आज हम आपको कुछ ऐसे योगासन के बारे में बताएंगे जिससे आपके चेहरे की चमक बनी रहेगी। इससे आपको ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर भी निर्भर रहना नहीं पड़ेगा। आपके चेहरे पर एक नेचुरल ग्लो आ जाएगा।

अगर आप इन योगासनों को करते हैं तो आपके डेड स्किन सेल्स खत्म हो जाएंगे। साथ ही साथ चेहरे पर रंगत निखरने लगेगी। इन योगासनों से आपकी स्किन हेल्दी होने लगेगी। आपकी मुरझाई हुई त्वचा फिर से जवान हो जाएगी। तो चलिए जान लेते हैं ऐसे कौन से योगासन हैँ जो त्वचा को निखारने में अहम भूमिका निभाते हैं।

1. सर्वांगासन को अवश्य करें

सर्वांगासन त्वचा को निखारने के लिए बेहद ही अहम भूमिका निभाता है। इस आसन को करने के लिए आपको किसी मैट पर पीठ के बल लेट जाना होगा। इसके बाद अपने दोनों हाथों को कमर के बगल में रख लें। अब धीरे-धीरे अपने दोनों पैरों को मिला लें और आसमान की तरफ एक साथ दोनों पैरों को उठाएं। इसके बाद आप अपने कंधों और शरीर को ऊपर उठाएं। इसे करने के लिए आप अपनी कमर और दोनों हाथों की सहायता ले सकते हैं। कंधे और सिर को छोड़कर पूरे शरीर को कुछ समय के लिए ऊपर की तरफ ही रहने दें।

2. शीर्षासन त्वचा पर चमक लाने के लिए है बेहद असरदार

शीर्षासन करने से आपके चेहरे पर चमक आने लगेगी। इस आसन को करने के लिए आपको मैट पर अपनी हथेलियों की मदद से एक कोण बनाना होगा। इसके बाद हथेलियों की मदद से बनाए हुए कोण के बीच में अपने सिर को रखें। अब संतुलन बनाएं और अपने सिर से लेकर कूल्हे तक के हिस्से को सीधा रखें। इसके बाद अपने पैरों को सिर के पास ले आएं। अब थोड़ा सा संतुलन बनाएं और अपने दोनों पैरों को एक-एक करके ऊपर की तरफ उठाएं। इसके बाद कुछ देर के लिए ऐसे ही रहें। आप शुरुआती दिनों में इस आसन को करने के लिए दीवार का सहारा भी ले सकते हैं।

3. हलासन से होगा फायदा

हलासन भी कुछ-कुछ सर्वांगासन की तरह ही किया जाता है। लेकिन इस आसन में पैरों को ऊपर की तरफ नहीं बल्कि सिर के ऊपर पीछे की तरफ करना होता है। इसके लिए आपको मैट पर कमर के बल लेटना होगा। इसके बाद अपने हाथों को कमर के दोनों तरफ रखना होगा। इसके बाद आप अपने दोनों पैरो को धीरे- धीरे एक साथ उठाना शुरू करें और सिर के पीछे ज़मीन तक ले जाएं। लेकिन इस आसन में आपको यह ध्यान रखना होगा कि आपके घुटने मुड़ने नहीं चाहिए।

Kanchan Goyalhttps://factspigeon.com
कंचन गोयल अभी माखनलाल पत्रिकारिता विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी कर रही हैं। इसके अलावा इन्हे निष्पक्ष होकर पत्रिकारिता करना पसंद है। सच्चाई और तथ्यों के आधार पर स्टोरी करने को महत्व देती हैं। इनका मानना है कि पढ़ाई, लिखाई करने से रचनात्मक सोच में उत्पत्ति है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular