Amrita Rao ने शादी के बाद मां बनने के लिए काफी दर्द सहा, खो दिया बेटा

नई दिल्ली: शादी के बाद लगभग हर कपल का सपना होता है कि उनके घर में एक नन्हा मेहमान आए और ऐसा ही एक ख्वाब एक्ट्रेस अमृता राव (Amrita Rao) और आर जे अनमोल (RJ Anmol) ने देखा था। कपल ने साल 2014 में शादी रचाई और साल 2020 में पहले बच्चे का वेलकम किया। लेकिन इस बच्चे से पहले एक्ट्रेस ने बहुत सी मुश्किलों का सामना किया।

बयां किया अपना दर्द

अमृता राव (Amrita Rao) के घर साल 2020 में किलकारी गूंजी थी और इस कपल बेटे का नाम वीर रखा। हाल में ही अमृता राव ने अपनी प्रेग्नेंसी, आईवीएफ, IUI, सरोगेसी और प्रेग्नेंसी स्ट्रगल पर खुलकर बात की। उन्होंने बताया कि कैसे उन्होंने मां बनने के लिए तमाम चीजों के सहारे लिए और कितने साल बच्चे के लिए तड़पी हैं। बच्चे की चाहत में उन्होंने दर-दर की ठुकरे खाईं लेकिन फिर भी वह सफल नहीं हुए। आखिरकार कैसे उन्हें बेबी कंसीव हुआ और कैसी मुश्किलों का सामना दोनों ने किया, ये सारी बातें अनमोल और अमृता राव ने अपने यूट्यूब चैनल पर शेयर कीं। वहीं अमृता राव के पति अनमोल भी इस स्ट्रगल के बारे में बात करते हुए इमोशनल हो गए।

सब ट्राई किया

अमृता राव ने बताया था कि अनमोल को शुरू से पापा बनने की चाहत थी। लेकिन मैंने सोचा कि अगर हुआ तो ठीक वरना जो हुआ भगवान की मर्जी। लेकिन अनमोल पिता बनने के लिए काफी उम्मीदें लगाए बैठे थे। मैंने सबकुछ भगवान पर छोड़ दिया लेकिन हमने सभी ऑप्शन ट्राई किया। अमृता राव आगे बताती हैं कि IUI ने वर्क नहीं किया तो डॉक्टर ने बताया कि सरोगेट मदर ट्राई क्यों नहीं करते हो? फिर हमने इस बारे में बहुत सोचा स्टेज 2 पर हमें सरोगेसी के लिए डॉक्टर ने सुझाव दिया। जब हम इस फैसले पर पहुंचे तो हमने कई महिलाओं से बात की और इंटरव्यू लिए जो अपनी कोख में हमारे बच्चे को पालेगी। हमने इस प्रोसेस को शुरू किया।

नहीं रहा बच्चा

वह आगे बताते हैं, फिर सरोगेसी प्रोसेस (surrogacy) शुरू हुआ और हम गुड न्यूज का इंतजार कर रहे थे कि वह महिला कब हमें गुड न्यूज सुनाएंगी। एक दिन अचानक डॉक्टर का कॉल आया कि गुड न्यूज है। बस ये हमारे लिए बहुत बड़ी बात थी। अनमोल इमोशनल हो जाते हैं और बताते हैं कि एक दिन अचानक कॉल आता है कि हमारा बेबी नहीं रहा। सरोगेसी फेल हो गया। फिर हम निराश हो गए और हमने ब्रेक लिया और सोचा कि फिलहाल कुछ नहीं करते हैं।

आईवीएफ भी नहीं आई काम

अमृता राव ने बताया कि सरोगेसी फेल हो जाने के बाद डॉक्टर ने बताया कि तुम लोग आईवीएफ ही ट्राई कर लो। शुरुआत में मैं रेडी नहीं थी लेकिन अनमोल को लग रहा था कि हमारे पास कोई ऑप्शन नहीं है तो हमें ये भी ट्राई करना चाहिए। फिर क्या…. हमने ये भी ट्राई किया लेकिन नतीजा वही रहा और हम एक बार फिर बेबी करने में फेल हो गए। अमृता राव ने बताया कि हमें लोगों ने सुझाव दिया कि डॉक्टर बदल लो। फिर हमने वो भी किया और दूसरी बार आईवीएफ भी ट्राई किया। लेकिन एक बार फिर हम लोग फेल हो गए और एकदम टूट गए। मैंने तय कर लिया था कि मैं अब आईवीएफ कुछ भी नहीं करवाऊंगी।

दवाई से रिएक्शन हुआ

अनमोल और अमृता राव ने बताया कि कुछ लोगों ने हमें कहा कि आप लोग एक मशहूर मंदिरा है बाल गणपति मंदिर। कहते हैं कि वहां जाने से सब मन्नत पूरी होती है तो हम वहां भी गए और मन्नत की। अमृता ने बताया कि किसी ने मुझे सजेस किया कि आप आयुर्वेद दवा ट्राई करें तो मैंने ये भी किया। इस दवाई को खाने से मेरे स्किन पर रिएक्शन हो गया। मेरा फेस जल सा गया। फिर लोगों ने कहा कि हेमोपेथी लो। मैंने हर चीज ट्राई की लेकिन मैं थक गई थी। ऐसे ख्याल आने लगे थे कि हमें बेबी नहीं हो पाएगा। हमें आशा ही छोड़ दिया।

फिर हुई मनोकामना पूरी

जनवरी 2020 में हमने वेकेशन प्लान किया। इस सब तनाव से उबरने के लिए हम बाहर गए। फिर हमने नॉर्मल लाइफ शुरू की। फिर अचानक एक दिन मैंने बेबी कंसीव किया। वह कहती हैं, हमारी किस्मत जो लिखा होता है वहीं मिलता है और हमें भी मिला। कोई आईवीएफ, कोई दवा, कोई चीज रास नहीं आई। लेकिन भगवान का आशीर्वाद था कि 11 मार्च 2022 को हमें पता चला कि हम प्रेग्नेंट थे। हम बहुत एक्साइटिड थे। फिर देश में लॉकडाउन लग गया और फिर वो जर्नी भी बहुत मुश्किल हो गई थी।

Source Link- Zee News

Leave a Comment