Tuesday, June 28, 2022
HomeदेशWar Memorial Amar Jawan Jyoti- इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति का...

War Memorial Amar Jawan Jyoti- इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति का आज आखिरी दिन:आज दोपहर नेशनल वॉर मेमोरियल की ज्योति में मिलाया जाएगा

War Memorial Amar Jawan Jyoti- दिल्ली में लगभग 50 सालों से इंडिया गेट पर Amar Jyoti जलाई जा रही थी। लेकिन आपको बता दें कि आज अमर ज्योति का आखरी दिन होगा। अब यह अमर ज्योति(Amar Jyoti )इंडिया गेट की जगह नेशनल वॉर मेमोरियल(War Memorial Amar Jawan Jyoti) पर प्रज्जवलित होगी। आज शुक्रवार को दोपहर 3:30 बजे एक समारोह में इसकी लोग को वॉर मेमोरियल की ज्योति में मिला दिया जाएगा।

अमर ज्योति को हटाने को लेकर समर्थन और साथ ही साथ विरोध के सुर भी सामने आने लगे हैं। जहां सरकार का कहना है कि अमर ज्योति को बुझाया नहीं जा रहा है बल्कि दूसरे जगह शिफ्ट किया जा रहा है। वहीं विपक्षी पार्टियों का कहना है कि अमर ज्योति ( Amar Jyoti ) को यहां से हटाना उसका अपमान है, यह हमारे सैनिकों का अपमान है।

भारत-पाक युद्ध के शहीदों की याद दिलाती है अमर जवान ज्योति-

अमर जवान ज्योति (Amar Jyoti )को पाकिस्तान के खिलाफ 1971 के युद्ध में शहीद होने वाले 3,843 भारतीय जवानों की याद में बनाया गया था। इसे पहली बार 1972 में प्रज्जवलित किया गया था। तत्कालीन PM इंदिरा गांधी ने 26 फरवरी 1972 को इसका उद्घाटन किया था। वहीं नेशनल वॉर मेमोरियल(War Memorial Amar Jawan Jyoti) का निर्माण केंद्र सरकार ने 2019 में किया था। इसे 1947 में देश की आजादी के बाद से अब तक शहादत दे चुके 26,466 भारतीय जवानों के सम्मान में निर्मित किया गया था। 25 फरवरी 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस स्मारक का उद्घाटन किया था।

यह भी पढ़े :-Corona vaccine- नए रिसर्च में हुआ बड़ा खुलासा , 6 महीने बाद 30% लोगों में खत्म हो गई Covid टिके से मिली इम्युनिटी

War Memorial Amar Jawan Jyoti- पूर्व सैनिकों की भावनाओं से जुड़ी हुई है अमर जवान ज्योति-

सरकार के द्वारा लिया गया यह बड़े फैसले से अलग-अलग के रिएक्शन सामने आ रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि इससे बहुत सारे सैनिकों की भावनाएं जुड़ी हुई है इसलिए इसे नहीं हटाया जाना चाहिए। दिसंबर 2021 में भारत-पाकिस्तान के 1971 युद्ध के 50 साल पूरे हुए हैं। हालांकि सरकार का कहना है कि हम अमर ज्योति(War Memorial Amar Jawan Jyoti) को दूसरे जगह शिफ्ट कर रहे हैं।

राहुल गांधी ने कहा- हम अमर जवान ज्योति एक बार फिर जलाएंगे-

इस मुद्दे को लेकर देश में राजनीति भी गरमा गई है। राहुल गांधी ने सरकार के इस फैसले की आलोचना करते हुए इसे दुख की बात बताया है। उन्होंने ट्वीट किया- बहुत दुख की बात है कि हमारे वीर जवानों के लिए जो अमर ज्योति(War Memorial Amar Jawan Jyoti) जलती थी, उसे आज बुझा दिया जाएगा। कुछ लोग देशप्रेम व बलिदान नहीं समझ सकते- कोई बात नहीं… हम अपने सैनिकों के लिए अमर जवान ज्योति एक बार फिर जलाएंगे!

आम आदमी पार्टी ने भी इसमें एक्शन दिया है और कहा है कि मोदी जी ना तो आप जवान के हैं और ना ही किसान के। देश में इसका विरोध शुरू हो गया है और कई लोग इसे गलत मान रहे हैं।

यह भी पढ़े :-EWS कोटा वालों की इनकम लिमिट पर अब भी तलवार! मार्च में सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

इंडिया गेट 84,000 ब्रिटिश भारतीय सैनिकों की यादगार-

42 मीटर ऊंचे इंडिया गेट का निर्माण ब्रिटिश सरकार ने किया था। ब्रिटिश सरकार ने 1914-21 के बीच पहले विश्व युद्ध और तीसरे अफगान युद्ध में ब्रिटिश सेना की तरफ से शहीद होने वाले 84,000 भारतीय सैनिकों की याद में इसे बनाया था। इस पर उन सैनिकों के नाम भी खुदे हुए हैं। यह हजारों सैनिकों को श्रद्धांजलि देती थी लेकिन यहां किसी का नाम नहीं लिखा गया था।

FactsPigeonhttps://factspigeon.com/
फैक्ट्स पिजन में आपको सबसे पहले खबरें मिलेंगी। आप हमारी वेबसाइट पर मनोरंजन, देश-दुनिया की खबरें, टेक्नोलॉजी, खेल, शिक्षा आदि खबरें पढ़ने को मिलेंगी।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular