Saturday, July 2, 2022
HomeदेशBihar Sharab Bandi- बिहार में शराब पीने पर नहीं होगी जेल, नीतीश...

Bihar Sharab Bandi- बिहार में शराब पीने पर नहीं होगी जेल, नीतीश सरकार कर सकती है कानूनों में संशोधन

Bihar Sharab Bandi- बिहार में शराब बंदी के बाद से ही विरोध के स्वर मजबूत तो रहे थे। राज्य में विपक्ष के साथ साथ सरकार के लोग भी सीएम नीतीश कुमार के फैसले का विरोध कर रहे हैं। विरोध के स्वर मजबूत होते देख सरकार ने अब बिहार मद्य निषेध एवं उत्पादन शुल्क अधिनियम कानून मे संशोधन करने का मन बना लिया है।

शराब पीने पर नहीं होगी गिरफ्तारी

एक रिपोर्ट के अनुसार पहली बार शराब पीने वालों कि अब गिरफ्तारी नहीं होगी, उनपर जुर्माना लगाया जाएगा। वहीं जिस भी वाहन पर शराब पकड़ी जाती है तो उस वहां को जब्त ने करके उसपर भी जुर्माना लगाया जाएगा। फिलहाल इन मामलों पर जुर्माने का ही प्रावधान होगा।

अवैध रूप से शराब बनाने ओर बेचने वालों(Bihar Sharab Bandi) पर सरकार सख्त कार्रवाई करेगी और कानून के अनुरूप दंड दिया जाएगा।

यह भी पढ़े :-Bihar News- बिहार के नवादा में स्कूल प्रिंसिपल स्कूल में कर रहा था दारू पार्टी, छापा कर पुलिस ने पकड़ा

Bihar Sharab Bandi- संशोधन के प्रमुख प्रस्ताव

:- Bihar Sharab Bandi धारा 37(जिसमे शराब पीने पर 5 से 10 साल तक कि जेल का प्रवभान है) को संशोधन के बाद पहली बार पीने पर जुर्माना लगाया जाएगा। जुर्माना न देने पर महीने भर की जेल होगी। जो भी व्यक्ति शराब पीने का आदि है और बार बार पकड़ा जा रहा है, उसपर जुर्माना अधिक लगाया जायगा उसके साथ जेल भी हो सकती है।

:- अभी सारे मामले अदालतों में सुलझाए जाते है। संशोधन के बाद मामलों को डिस्ट्रिक्ट मैजिस्ट्रेट देखेंगे और उनका फैसला ही मान्य होगा।

:- धारा 57 को शामिल किया जाएगा ताकि शराब ले जाने के लिए जब्त किए गए वाहनों को जुर्माने के भुगतान पर छोड़ने की अनुमति दी जा सके।

:- उप धारा 50 ए को जोड़ने की भी योजना है। ये धारा संगठित अपराध को परिभाषित करती है। सरकार छोटे अपराध के बजाय बड़े संगठित अपराध पर अपना ध्यान केंद्रित कारण चाहती है।

यह भी पढ़े :-युद्ध स्मारक बनवाने का मतलब Amar Jawan Jyoti बुझाना नहीं, केंद्र पर बरसी कांग्रेस

संशोधन की जरूरत क्यों पड़ी?

संशोधन का मुख्य कारण जदयू के सहयोगी दल भाजपा का समय समय पर जदयू पर हमला करना है। भाजपा शराब बंदी पर जदयू को घेरती रहती है। दूसरा मुख्य कारण जहरीली शराब को पीकर मारने वालों को संख्या में वृद्धि होना है। बिहार में नवंबर से अभी तक जहरीली शराब पीने से 50 से ज्यादा लोगों को मौत हो गई है। इसी जहरीली शराब को रोकने के लिए नीतीश सरकार ने शराब बंदी(Bihar Sharab Bandi) की है।

 

Saurav Kumarhttps://factspigeon.com
सौरभ कुमार राजनीतिक विज्ञान से स्नातक की डिग्री पूरी कर रहे है। इसके साथ ही पत्रकारिता में रुचि रखते है तथा निष्पक्ष पत्रकारिता करने में सक्षम है। इनका मानना है कि निरंतर प्रयास और सभी विषयों पर सही ज्ञान से आप एक सफल पत्रकार बन सकते है। फिलहाल वे फैक्ट्सपिजन के लिए कार्यरत है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular