Monday, July 4, 2022
Homeदेश -दुनियाCorona vaccine- नए रिसर्च में हुआ बड़ा खुलासा , 6 महीने बाद...

Corona vaccine- नए रिसर्च में हुआ बड़ा खुलासा , 6 महीने बाद 30% लोगों में खत्म हो गई Covid टिके से मिली इम्युनिटी

Corona vaccine- देश में एक तरफ कोरोनावायरस के नए मामले के मरीज मिल रहे हैं वहीं दूसरी तरफ सबसे राहत की बात यह है कि अस्पतालों में अभी दूसरी लहर की तरह बेड फूल नहीं हुए हैं। कोरोनावायरस वैक्सीनेशन(Corona vaccine) को लेकर रिसर्च में एक नई बात सामने आई है। नए खुलासे में यह बात सामने आई है कि 30% लोगों ने वैक्सीन(Corona vaccine) लगवाने के बाद मिली प्रतिरक्षी क्षमता 6 महीने के बाद खत्म हो गया है।

यह रिसर्च एआईजी हॉस्पिटल्स और एशियन हेल्थकेयर फाउंडेशन द्वारा किया गया है। एआईजी अस्पताल की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार कोविड-19 रोधी टीकाकरण(Corona vaccine) पूरा करा चुके 1,636 स्वास्थ्यकर्मियों पर यह अध्ययन किया गया। यह अध्ययन में बड़ा खुलासा हुआ है।

यह भी पढ़े :-Covid-19 Updates: देश में तेजी से पैर पसार रहा है कोरोनावायरस, 24 घंटे में सामने आए दो लाख से अधिक नए केस

Corona vaccine- 6% लोगों के पास कोई सुरक्षा नहीं हैं

एआईजी अस्पताल के अध्यक्ष डॉक्टर डी. नागेश्वर रेड्डी ने जानकारी दिया है कि ‘हमारे अध्ययन के परिणाम अन्य वैश्विक अध्ययनों के समान हैं। हमने पाया है कि टीकाकरण(Corona vaccine) के छह महीने बाद लगभग 30 प्रतिशत व्यक्तियों में एंटीबॉडी का स्तर 100 एयू/एमएल के सुरक्षात्मक प्रतिरक्षा स्तर से नीचे था। ये व्यक्ति उच्च रक्तचाप,मधुमेह जैसी विभिन्न बीमारियों से भी जूझ रहे थे और इनकी आयु 40 साल से ज्यादा थी।

जिन लोगों पर यह अध्ययन किया गया उनमें से 6% लोगों के शरीर में कोई प्रतिरक्षा सुरक्षा विकसित नहीं की है। इस अध्ययन से यह परिणाम निकला है कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ प्रतिरक्षा मे कमी आने लगती है। युवाओं में बुजुर्गों की तुलना में अधिक एंटीबॉडी बनते हैं।

अस्पताल ने यह जानकारी दिया है कि अध्ययन के परिणामों में एक महत्वपूर्ण बात का पता चला है के हाई ब्लड प्रेशर और शुगर से पीड़ित ग्रस्त 40 साल से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण(Corona vaccine) होने के 6 महीने बाद प्रतिरक्षा क्षमता काफी कम हो गई है।

यह भी पढ़े :-पता लगाकर वापस भेजें… 17 साल के किशोर की ‘किडनैपिंग’ के मामले में भारतीय सेना ने किया PLA से संपर्क

एआईए जी ने यह जानकारी दिया है कि 40 साल से अधिक उम्र के लोगों का मधुमेह और उच्च रक्तचाप होने पर सार्स-कोव-2 संक्रमण का अधिक खतरा हो सकता है। 40 साल से अधिक उम्र के लोगों को प्राथमिकता के साथ बूस्टर डोज(Corona vaccine) दिया जाना चाहिए। इन लोगों को कोरोनावायरस का खतरा अधिक है।

:- ज्योति मिश्रा
FactsPigeonhttps://factspigeon.com/
फैक्ट्स पिजन में आपको सबसे पहले खबरें मिलेंगी। आप हमारी वेबसाइट पर मनोरंजन, देश-दुनिया की खबरें, टेक्नोलॉजी, खेल, शिक्षा आदि खबरें पढ़ने को मिलेंगी।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular