Monday, July 4, 2022
Homeदेश -दुनियाBeijing Winter Olympics 2022: शीतकालीन ओलंपिक में भारतीय राजनयिकों ने नहीं लिया...

Beijing Winter Olympics 2022: शीतकालीन ओलंपिक में भारतीय राजनयिकों ने नहीं लिया हिस्सा,जाने क्या है इसके पीछे की वजह

Beijing Winter Olympics 2022- भारत के राजनीतिक आज बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक में भाग नहीं लेंगे।जिसे चीन के शिनजियांग प्रांत में मानवाधिकार उल्लंघन के आरोपों के कारण अमेरिका और उनके सहयोगियों के राजनयिक बहिष्कार का सामना करना पड़ रहा है।

इस शीतकालीन ओलंपिक(Beijing Winter Olympics 2022) की शुरुआत आज राष्ट्रपति शी जिनपिंग के द्वारा किया जाएगा।
अमेरिका, यूरोपीय यूनियन और कई पश्चिमी देशों ने उद्घाटन समारोह के राजनयिक बहिष्कार का फैसला किया है. अभी भी कोरोनावायरस संक्रमण का खतरा गया नहीं है। आज शुक्रवार से होने वाले शीतकालीन ओलंपिक को लेकर चाइना ने यह ऐलान किया है कि चीन हर तरह से सुरक्षा प्रदान करेगा।

यह भी पढ़े :-Bihar के लाल ने पकड़ी गूगल की गलती, वहीं Elon Musk को एक लड़के ने किया परेशान जाने पूरी न्यूज़

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति के 139वें सत्र के उद्घाटन समारोह के दौरान वीडियो संबोधान में जिनपिंग ने कहा, ‘‘चीन(Beijing Winter Olympics 2022) दुनिया के सामने सुरक्षित और शानदार खेलों के आयोजन के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करेगा और ओलंपिक सिद्धांत ‘सबसे तेज, उच्चतम, सबसे मजबूत-एक साथ’ पर काम करेगा.’’

चीन के अधिकारियों को उम्मीद है कि भारतीय राजनयिक शीतकालीन खेलों(Beijing Winter Olympics 2022) के उद्घाटन और समापन समारोह में हिस्सा लेंगे क्योंकि रूस, भारत और चीन के विदेश मंत्रियों ने पिछले साल छह नवंबर को संयुक्त बयान में कहा था कि मंत्री बीजिंग में 2022 शीतकालीन ओलंपिक और पैरालंपिक खेलों की मेजबानी के लिए चीन का समर्थन करते हैं।

गुरुवार के दिन भारत ने नई दिल्ली में घोषणा किया था कि बीजिंग में भारतीय दूतावास के मामलों के प्रमुख 2022 शीतकालीन ओलंपिक के उद्घाटन या समापन समारोह में हिस्सा नहीं लेंगे क्योंकि चीन ने गलवान घाटी झड़प में शामिल सैन्य कमांडर को इस प्रतिष्ठित खेल प्रतियोगिता का मशाल धारक बनाकर सम्मानित किया है।

आपको बता दें कि चीन में होने वाला यह ओलंपिक(Beijing Winter Olympics 2022) 4 फरवरी से लेकर 20 फरवरी तक होगा। शीतकालीन पैरा ओलंपिक खेल 13 मार्च तक आयोजित किया जाएगा। चीन को उम्मीद है कि इस खेल के अंत में भारतीय राजनयिक जरूर आएंगे लेकिन भारतीय राजनयिक ने साफ इंकार कर दिया है कि वह इस साल चीन में होने वाले शीतकालीन ओलंपिक में भाग नहीं लेंगे। इसका एक बहुत बड़ा कारण गलवान घाटी में हुआ झड़प भी है।

यह भी पढ़े :-बलूचिस्तान में पाक आर्मी पर हुआ हमला, इमरान की सेना ने लगा दिया भारत पर आरोप

ओलंपिक 2008 की मेजबानी करने वाला बीजिंग इसके साथ ही दोनों ओलंपिक खेलों की मेजबानी करने वाले दुनिया का पहला शहर बन जाएगा। शीतकालीन ओलंपिक का आयोजन चार से 20 फरवरी तक होगा जबकि शीतकालीन पैरालंपिक खेल चार से 13 मार्च तक होंगे।

FactsPigeonhttps://factspigeon.com/
फैक्ट्स पिजन में आपको सबसे पहले खबरें मिलेंगी। आप हमारी वेबसाइट पर मनोरंजन, देश-दुनिया की खबरें, टेक्नोलॉजी, खेल, शिक्षा आदि खबरें पढ़ने को मिलेंगी।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular