Tuesday, June 28, 2022
Homeधर्म-ज्योतिषMagh Month 2022: माघ मास में जरूर करें ये 4 काम, घर...

Magh Month 2022: माघ मास में जरूर करें ये 4 काम, घर में रहेगी सुख-शांति; खुल जाएगा भाग्य

Magh Month 2022: माघ का महीना पुण्य प्राप्ति के लिए बहुत ही उत्तम माना जाता है। इसी के साथ साथ देवी देवता और पितरों के निमित्त पूजा के लिए यह महीना बहुत ही अच्छा होता है। मान्यता तो यह भी है कि माघ मास में प्रयागराज में कल्पवास करने से देवी देवता प्रसन्न हो जाते हैं। इससे कष्टों से मुक्ति प्राप्त होती है। तो चलिए जानते हैं पवित्र माघ मास में जीवन को सुखी बनाने के कुछ उपाय

पुण्य प्राप्त करने के लिए करें स्नान

पुराणों की मानें तो माघ मास(Magh Month 2022) के समय ब्रह्म मुहूर्त में स्नान करके सभी पाप दूर हो जाते हैं। किसी के साथ साथ प्रजापत्य यज्ञ का फल भी प्राप्त होता है। कहा जाता है कि माघ मास में देवता भी प्रयागराज के संगम तट पर स्नान करने के लिए आते हैं। इसी कारण से इस पवित्र मास में संगम में स्नान करने के पुण्य फल प्राप्त होता है।

यह भी पढ़े :-Vastu Tips: नौकरी मे पाना चाहते है तरक्की तो ज़रूर करें वास्तु के इन उपायों का पालन

Magh Month 2022- सूर्य देव की करनी होगी पूजा

माघ मास(Magh Month 2022) में सूर्य की उपासना बहुत ही लाभकारी सिद्ध होती है। इसीलिए जीवन के सभी पापों से मुक्ति पाने के लिए व्यक्ति को स्नान के बाद सूर्यके मंत्रों का उच्चारण करके उन्हें जल अर्पण करना चाहिए। भविष्य पुराण के अनुसार माघ मास में सूर्य की उपासना करने पर जीवन में सुख समृद्धि और खुशहाली आती है।

शिव की करें उपासना

माघ(Magh Month 2022) मास में भगवान सूर्य और विष्णु देव की उपासना के साथ-साथ शिवजी की उपासना भी होती है। माघ मास में नियमित रूप से रोजाना जल में गंगाजल को मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाने से सभी रोग से मुक्ति प्राप्त होती है। विशेष कामना की पूर्ति करवाने के लिए रूद्र अभिषेक करना भी लाभकारी सिद्ध होता है। इसी के साथ-साथ धन की प्राप्ति और घर में सुख शांति के लिए विष्णु सहस्रनाम का पाठ, श्री सूक्त का पाठ और हवन करवा देना चाहिए।

यह भी पढ़े :-केतु गोचर से मेष राशि वालों के जीवन में हो सकते हैं बदलाव, जानिए किन बातों का रखना होगा ध्यान

Magh Month 2022- माघ मास में करे दान

माघ मास(Magh Month 2022) में गुड, तिल और कंबल का दान करने का बहुत ही खास महत्व बताया गया है। ऐसा करने पर रोग से मुक्ति प्राप्त होती है। किसी के साथ साथ इस मास में अन्न दान करने से धन की कमी भी दूर हो जाती है।

Kanchan Goyalhttps://factspigeon.com
कंचन गोयल अभी माखनलाल पत्रिकारिता विश्वविद्यालय से अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी कर रही हैं। इसके अलावा इन्हे निष्पक्ष होकर पत्रिकारिता करना पसंद है। सच्चाई और तथ्यों के आधार पर स्टोरी करने को महत्व देती हैं। इनका मानना है कि पढ़ाई, लिखाई करने से रचनात्मक सोच में उत्पत्ति है।
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular